जानिए वो 10 खूबियाँ जो नरेन्द्र मोदी को बनाती हैं सबसे सफल नेता

pm narendra modi, pm narendra modi news in hindi, नरनदर मोदी, Know Narendar Modi India's PM

17 सितम्बर 1950 में गुजरात के वडनगर में जन्मे नरेन्द्र दामोदरदास मोदी ने 16 मई 2014 को प्रधानमंत्री पद संभाला. इससे पूर्व वे गुजरात के मुख्यमंत्री रहकर अपनी कार्यशैली का प्रभाव पहले ही दिखा चुके हैं. इसके बाद भी लोगों का यह कहना की कभी सोचा भी न था कि चाय वाला कभी प्रधानमंत्री बन सकता है मेरी समझ के परे है.

यहाँ हमें यह जानने की ज़रुरत है कि ऐसी क्या ख़ास बातें हैं जिस वजह से केवल बनारस, गुजरात या केंद्र में ही नहीं देश के अधिकांश राज्यों में हर-हर मोदी घर घर मोदी के नारे लगाते हुए लोग नज़र आ जाते हैं. तो आइये जानते हैं की नरेन्द्र मोदी में ऐसी क्या खासियत है जो उन्हें औरों से विरले बनाती हैं.

1. अनुशासनप्रियता

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जीवन में अनुशासन का बहुत ही ज्यादा महत्त्व देखा गया है. उनके बचपन से लेकर प्रधानमंत्री होने तक उनके जीवन में अनुशासनप्रियता देखने को मिलती है. वह रात को कितनी देर में सोयें लेकिन सुबह वह पांच उठकर नियमित रूप से योगभ्यास करते हैं. सुबह सात बजे से वह अपने कार्य करने शुरू कर देते हैं.

2. वाकपटुता

प्रधानमंत्री मोदी की वाकपटुता उनके भाषणों में नज़र आ ही जाती है. उनकी वाकशैली इतनी कुशल है कि उनका भाषण सुनने वाली जनता उनके प्रति आसक्त हो जाती है. मोदी जी के सहपाठी और शिक्षक यहाँ तक बताते हैं कि नरेन्द्र पढने में तो औसत छात्र थे लेकिन वाक्पटु होने के कारण वाद विवाद प्रतियोगिता में हमेशा अव्वल आते थे. इतना ही नहीं उन्हें रंगमंच से भी प्रेम था उन्होंने स्कूल के दिनों में कई नाटकों में भी हिस्सा लिया.

इसे भी पढ़ें

 जब जंगली जानवरों ने पाला इंसानों को

3. स्टाइल स्टेटमेंट

यहाँ हम बात कर रहे हैं मोदी जी के स्टाइल स्टेटमेंट की… अरे आप सब जानते हैं कि मोदी जी का ड्रेसिंग स्टाइल भी उन्हें सुर्ख़ियों में लेकर आ ही जाता है. उनका ड्रेसिंग स्टाइल स्थान के अनुरूप ही होता है. उनके द्वारा १० लाख रुपये का पहना हुआ बंद गले का सूट काफी ज्यादा सुर्ख़ियों में आया था. इसके वाद वही सूट ४.३१ करोड़ रुपये में नीलम हुआ था. इस बंद गले के कढ़ाईदार सूट को गिनीज़ बुक ऑफ़ वर्ल्ड रिकॉर्ड में भी शामिल किया गया था. उन्हें सूट के चक्कर में कई बार विपक्षियों के तंज़ का भी सामना करना पड़ा है. एक न्यूज़ वेबसाइट की खबर के अनुसार कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी ने यह तक कह दिया था कि १५ लाख का सूट पहन विदेश यात्रा करने वाले नरेन्द्र मोदी सूट गन्दा होने के डर से गाँव में बदहाल किसानों के बीच नहीं जाते. बात कुछ भी हो जिस तरह एक ज़माने में नेहरु जैकेट स्टाइल स्टेटमेंट बनकर फैशन वर्ल्ड में शामिल हुयी थी ठीक उसी तरह मोदी जी का स्टाइल स्टेटमेंट भी फैशन जगत में शुमार हो चुका है.

4. हिंदी के प्रति उनका रुझान

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का देश और अपनी भाषा के प्रति प्रेम अक्सर देखने को मिलता है. उनका हिंदी के प्रति प्रेम उनके द्वारा किये गए हस्ताक्षर और उनके भाषणों में देखने में मिल जाता है. हिंदी में भाषण देने के कारण वह करोड़ों भारतीयों से सीधे जुड़े हैं. केवल भारत में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी हिंदी में बोलते देखा गया है. मॉरिशस में विश्व हिंदी सचिवालय के भवन निर्माण के आरभ पर प्रधानमंत्री मोदीजी ने अपना पूरा वक्तव्य हिंदी में ही दिया था. इसके अलावा रेडियो पर उन्हें अक्सर हिंदी में ही मन की बात करते हुए सुना जा सकता है.

5. सबसे तेज़ी से विकास करने वाले शासक

जब नरेंद्र मोदी जी गुजरात के मुख्यमंत्री थे तब उन्होंने गुजरात के आर्थिक स्थिति में परिवर्तन लाने के लिए बेहद और बेहतरीन प्रयास किये थे. वो चाहते थे की गुजरात के हर शहर में बिजली की समस्या दूर हो जाये और उनकी ये इच्छा उन्ही द्वारा आयोजित की गयी ‘ग्राम ज्योति योजना‘ के रूप में पूरी भी हो गयी.

फ़ोर्ब्स की रिसर्च के अनुसार गुजरात का ही एक राज्य अहमदाबाद सन २०१० में इस पूरे विश्व के सबसे तेज विकासशील राज्यो में से तीसरे नंबर पर स्थित था जबकि पहले और दूसरे नंबर पर चीन के दो राज्य शामिल थे.

6. स्वच्छता के प्रति सजग

नरेंद्र मोदी को सफाई बहुत पसंद है. वे हमेशा अपना ऑफिस साफ़ सुथरा रखते है. और वो सफाई के मामले में कितने एक्टिव है इसका अंदाजा हमें तभी लग गया था जब उन्होंने भारत के प्रधानमंत्री बनाते ही कुछ ही दिनों बाद 2 अक्टूबर 2014 को ‘स्वच्छ भारत मिशन‘ की घोषणा की थी. और अपने कार्यकर्तों के साथ खुद भी उस सफाई के योजना में सहभागी होकर रास्तो की सफाई की थी.

7. नोटबंदीः सही समय पर ठोस फैसले लेना

जाली नोटों और काले धन पर लगाम लगाने के लिए मोदी सरकार ने 8 नवंबर की रात सबसे बड़ा फैसला किया. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र के नाम संबोधन में ऐलान किया कि मंगलवार आधी रात से 500 और 1000 रुपये के नोट रद्दी माने जाएंगे. पीएम ने कहा कि काला धन और जाली नोट भ्रष्टाचार के साथ आतंकवाद को भी मदद पहुंचा रहे थे, ऐसे में इन्हें बंद करना जरूरी था. इतना ही नहीं इसके बाद उन्होंने २००० के और ५०० के नए नोट भी शुरू कराये.

8. स्टार्टअप और रोज़गार पर फोकस

स्टार्टअप इंडिया के जरिया रोज़गार को बढ़ावा मिला. नरेन्द्र मोदी ने १६ जनवरी २०१६ को स्टार्ट अप इंडिया अभियान का एक्शन प्लान पेश किया. सरकार ने इस योजना के जरिए देश में स्टार्टअप कंपनियों को बढ़ावा दिया. मोदी ने स्टार्ट अप कंपनियों को बढ़ावा देने के लिए 10 हजार करोड़ के सरकारी फंड के प्रावधान का एलान किया. स्टार्टअप के लिए पेटेंट एप्लिकेशन लगाने पर 80 पर्सेंट छूट और पहले तीन साल तक मुनाफे पर टैक्स में छूट जैसे प्रावधानों का भी एलान किया. स्कूली छात्रों के इनोवेशन को बढ़ावा देने के लिए कदम उठाने की भी घोषणा की. उनके इस एलान के बाद भारत में स्टार्टअप की बाढ़ सी आ गयी.

आपके लिए एक और बेहतरीन कहानी :-

इतिहास की इन अमर प्रेम कहानियों के बारे में अगर नहीं जाना तो क्या जाना!

9. डिजिटलाईज़ेशन को बढ़ावा

प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का डिजिटल इंडिया का सपना भी साकार होता नज़र आ रहा है, उन्होंने भारत में डिजिटाईज़ेशन को बढ़ावा देने के लिए बजट में भी इसके लिए काफी जोर दिया. एक तरफ तो सरकार ने कैशलेस लेनदेन के लिए बढ़ावा देने की कोशिश की है. वहीं कैश लेनदेन पर लगाम लगाने की कोशिश की है. साथ ही डिजिटल इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए भी रियायतें दी गई है. वित्त मंत्री अरुण जेटली ने कहा कि कैशलेस इकोनॉमी को बढ़ावा देने के लिए सरकार ने बड़ा कदम उठाया है. अब 3 लाख से ज्यादा का ट्राजैक्शन कैश में नहीं हो सकेगा.

10. कर्मठ व्यक्तित्व

लोकसभा चुनाव की जीत हो या विधानसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड की एकतरफा जीत इस जीत को मोदी के पक्ष में रखकर देखा जाता रहा है. एक अमरीकी विशेषज्ञ ने कहा कि परिणामों से पता चलता है कि भारत की जनता प्रधानमंत्री मोदी को कर्मठ मानती है. उत्तरप्रदेश जैसे सर्वाधिक आबादी वाले राज्य में भाजपा की ऐतिहासिक जीत इसका सबसे बड़ा चुनावी पुरस्कार है. घरेलू भारतीय राजनीति में दक्षता रखने वाले मिलान वैष्णव ने बताया, ‘‘उत्तराखंड में जीत के साथ साथ यह स्पष्ट विजय निश्चित रूप से मोदी के लिए समर्थन का वोट है. यह जीत जाहिर करती है कि नोटबंदी के बारे में लोग चाहे जो भी सोचें, वह मोदी को काम करने वाले व्यक्ति के तौर पर देखते हैं.’

उपरोक्त खूबियों के चलते प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एक विरले नेता के रूप में सबके सामने आयें. इन बातों के अतरिक्त भी उनकी सरकार की कई उपलब्धियां हैं जिसका विस्तृत विवरण हम आपको फिर कभी देंगे.

3 thoughts on “जानिए वो 10 खूबियाँ जो नरेन्द्र मोदी को बनाती हैं सबसे सफल नेता”

Leave a Reply