Nature

अंटार्कटिका में बहता है यह खूनी लाल झरना

Blood Falls, at the toe of Taylor Glacier
mm
Written by Afsaana Team

दुनिया इतने रहस्यों से भरी पड़ी है कि चाहे अनचाहे इन अजीबो-गरीब रहस्यों पर विश्वास करना ही पड़ता है। ऐसा ही एक खूनी लाल झरना है जो कि अंटार्कटिका के टेलर ग्लेशियर पर है। यह एक ऐसी जगह है जहां से लाल रंग का झरना बहता हुआ लगता है।

इसे देखकर सहसा विश्वास करना मुश्किल है कि ऐसा खूनी झरना वास्तव में हो सकता है। इसे ब्लड फाल्स के नाम से जाना जाता है। इसका पानी लाल क्यों है इसके लिए बहुत पहले से ही खोज की जाती रही है।

ब्लड फॉल की खोज

इसे सबसे पहली बार 1911 में आस्टेलियन जियोग्राफर,एन्र्थोपोलोजिस्ट टेलर वेली ने देखा था।,इसीलिए जहां यह झरना है इसे अंटार्कटिका में टेलर वेली का नाम दिया गया है।

ये भी पढ़े :-

इस किले को जीतने के लिए बाबर ने एक ही रात में कटवा डाला पूरा पहाड़

क्यों है यहां का पानी लाल?

वैज्ञानिकों ने इसका कारण जानने के लिए कई प्रकार की खोज की जिससे यह पता चला कि कई सालो पहले इसमे एक ऐसी झील आकर मिल गई थी,जिसके पानी में आयरन आॅक्साइड की अत्यधिक मा़त्रा थी। जिस कारण इस साल्टवाटर के आउटफ्लो होने से ही कुछ हिस्से का पानी एक दम खूनी लाल रंग का नज़र आता है लेकिन ऐसा होना किसी रोमांच से कम नहीं है।

खोज से मिले नए तथ्य

वैज्ञानिको ने ब्लड फॉल के पानी को लेकर परीक्षण किया जिससे आश्चर्यजनक रूप से कुछ तथ्य सामने आए है। खोज के परिणामस्वरूप पाया गया कि इस पानी में बहुत ही दुर्लभ आटोटोफिक बैक्टिया का कलेक्शन है जो कि कोल्ड से बचने में बेहद मददगार साबित हो सकता है।

इसके अतिरिक्त कम से कम 17 प्रकार के माइक्रोब्स भी पाए गए है। अभी हाल ही में भी रिसर्च की गई है और अभी भी लगातार साइंटिस्ट कुछ ना कुछ नई खोज करने में लगे हैं। लेकिन सच यहीं है कि कुदरत के तरह तरह के अजूबों से यह दुनिया लबरेज है।

About the author

mm

Afsaana Team

1 Comment

Leave a Comment