Behind News People

जिसके नाम एंटी स्क्वाड बन गया, वह रोमियो था कौन?

राजा रानी के किस्से,राजा महाराजा की कहानी,कहानी राजा रानी,प्रेम कहानी,रोमियो राजकुमार,सपनों की रानी
mm
Written by Shweta Singh

जब से उत्तरप्रदेश में भाजपा की सरकार बनी है तब से वहां एंटी रोमियो स्क्वाड का नाम जोर शोर से सुनाई दे रहा है. पुलिस की टीम दल-बल के साथ बड़े बाज़ारों और पार्कों में ऐसे युवा युगल जोड़ियों की तलाश कर रहे हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं जिसके नाम पर एंटी स्क्वाड बनाया गया वास्तव में वह रोमियो था कौन? तो चलिए आज हम विलियम शेक्सपियर के रोमियो और जूलिएट नाम के दो किरदारों से आपकी मुलाकात कराते  हैं.

कौन था रोमियो

यह कहानी इटली के वेरोना की है जिसमें रोमियो एक राजकुमार और जूलियट एक राजकुमारी थी. रोमियो और जूलिएट एक पार्टी के दौरान एक दूजे के प्यार में पड़े. लेकिन उनके परिवार में काफी पुरानी दुश्मनी थी. इस बात की जानकारी रोमियो जूलिएट को भी थी और वह यह भी जानते थे कि उनका परिवार उनकी शादी के लिए राजी नहीं होंगे. फिर भी, उन्होंने फ्रिअर लौरेंस की सहायता से चुपके से शादी कर ली. दुर्भाग्यवश, उनकी शादी की रात से पहले ही रोमियो ने जूलिएट के भाई डूएल की हत्या कर दी थी और सुबह रोमियो ने जूलिएट को उसे छोड़ देने की जिद की. क्योकि यदि वह दोबारा कभी उस शहर में आता तो उसे मार दिया जाता.

जूलिएट के माता-पिता ने जूलिएट को पेरिस से शादी करने के लिए कहा. लेकिन जूलिएट के माता-पिता को नही पता था की जूलिएट ने पहले से रोमियो से शादी कर ली. शुरू-शुरू ने जूलिएट ने शादी करने से मना कर दिया क्योकि जूलिएट ने अपनी मौत का बहाना बनाकर रोमियो के साथ भागने की योजना बना रखी थी, यह योजना भी उन्होंने फ्रिअर लौरेंस के साथ मिलकर ही बनायी थी.

ये भी पढ़ें :-

एक ऐसा महान योद्धा जिसने कभी किसी के आगे नहीं झुकाया सिर

कैसे हुई रोमियो की मौत

फ्रिअर लौरेंस ने ही पूरी योजना निर्धारित कर रखी थी. उन्होंने जूलिएट को नींद की दवा दे रखी थी. जिससे ऐसा लगे की उसकी मृत्यु हो चुकी है और फिर उसे मकबरे में डाला जा सके. जबकि रोमियो को इस योजना के बारे में कुछ पता नही था, वह गंभीर बनकर वहाँ पंहुचा और रोमियो को लगा की जूलिएट सच में मर गयी है और ऐसा सोचते हुए रोमियो ने खुद की भी हत्या कर दी. और जब अंततः जूलिएट को होश आया तब उसने पाया की रोमियो मर चूका है और फिर जूलिएट ने भी खुद में मार डाला.

ऊपर दी गयी कहानी से आपको यह तो समझ में आ गया होगा कि शेक्सपीयर के रोमियो के दिल में जूलिएट के लिए निश्च्छल प्रेम भावना थी. लेकिन इसके विपरीत आजकल हम लड़कियों से छेड़छाड़ करने वाले को रोमियो की उपाधि देते फिरते है… किस हिसाब से यह मेरी समझ के परे है. लेकिन योगी जी द्वारा चलाया जा रहा एंटी रोमियो स्क्वाड कितना सही और कितना गलत होगा यह तो आने वाला समय ही बताएगा.

 

About the author

mm

Shweta Singh

Leave a Comment