कभी देखा है पानी में तैरने वाला गांव

दुनिया का इतिहास, भारत का, पानी पानी, अनोखी दुनिया, बस्ती , भारत के गाँव, दुनिया के अनोखे रहस्य, बस्ती का इतिहास

आपने कश्मीर के शिकारे और हाउस बोट के बारे में तो सुना होगा. दल झील में तो बाकायदा शिकारे पर बैठकर मंडी भी लगाते हैं और अपना जीवन यापन भी वहीँ चलते हैं. लेकिन क्या आप ऐसी किसी जगह के बारे में जानते हैं जहाँ के बाशिंदे हमेशा पानी में ही रहते हैं. नहीं सुना… तो चलिए आज हम आपको ऐसे ही दिलचस्प गाँव की ओर लिए चलते हैं.

कहां है ये गांव

चीन के निगाडे सिटी की एक बस्ती है जो हमेशा पानी में तैरती रहती है. यह बस्ती करीब १३०० साल पुरानी है.इस बस्ती में लगभग ८५०० लोग रहते है. आपको जानकार हैरानी हुई ना!!! सोचने वाली बाते है इतनी बड़ी आबादी आखिर पानी के ऊपर अपनी गुज़र बसर कैसे करती होगी. लेकिन सच्चाई यही है निगाडे सिटी में बसी यह बस्ती दुनिया का एकमात्र ऐसा गांव है जो पूरी तरह से गहरे समुद्र पर बसा हुआ है.

 क्यूँ कर रहे हैं पानी में गुज़र बसर

चीन में कई सौ सालों पहले टांका जाति के लोग वहां के तत्कालीन शासकों के उत्पीड़न से काफी त्रस्त थे. उन शासकों से बचने के लिए वह समुद्र के किनारे आकर बस गए. लेकिन बाद में जब शासकों ने उनके परिवार पर नज़र डालना शुरू किया तब उन्होंने नावों को अपना घर बनाना शुरू कर दिया. जब कभी खतरा नजर आता ये नावों को समुद्र में दूर ले जाते. फिर इन्होने अपने जीवन यापन के लिए मछुआरों का जीवन अपना लिया. मछलियाँ पकड़कर यह जीविकोपार्जन करने लगे.

आपके लिए एक और बेहतरीन कहानी :-

दुनिया के कुछ ऐसे स्थान जहाँ आपका जाना है सख्त मना

अब भी हैं इन मछुआरों का घर

दक्षिण पूर्व चीन में इन मछुआरों का परिवार बदस्तूर अपने परंपरागत नावों के मकान में अब भी रह रहा है.  हमेशा समुद्र में तैरते रहने के कारण टांका जाति के लोगों को जिप्सीज़ ऑफ़ द सी भी कहा जाता है. इन लोगों की ख़ास बात यह है की वह आम जनता से काफी कटे रहते हैं. इस समुदाय के लोग न तो किनारे आते हैं और न ही समुद्र के बाहर बसी दुनिया से कोई संपर्क साधना चाहते हैं न ही इसका कोई प्रयास अपनी तरफ से करते हैं.

Leave a Reply