Life

जानें भारत की पहली मस्जिद के बारे में

mm
Written by Shweta Singh

आजकल चारों तरफ राम मंदिर और बाबरी मस्जिद की जोर शोर से चर्चा हो रही है. चर्चा यह है की यहाँ मस्जिद बनेगी या मंदिर. फिलहाल हम इस तर्क में नहीं जायेंगे. हम आपको भारत में निर्मित पहली मस्जिद के बारे में बताएँगे. जी हाँ, यह भारत की पहली मस्जिद के साथ दुनिया की प्राचीनतम मस्जिदों में से एक है.

चेरामन जुमा मस्जिद

आपने अब तक प्राचीनतम मंदिरों के बारे में काफी सुना होगा लेकिन हम आपको भारत में बनने वाली पहली मस्जिद के बारे में बता रहे हैं.  हमारे देश के केरल राज्य में पैगम्बर मोहम्मद साहब के समय की मस्जिद आज भी मौजूद है. यह भारत की पहली और दुनिया की सबे पुरानी मस्जिदों में से एक मानी जाती है.

कब हुआ इसका निर्माण

इस मस्जिद का निर्माण हज़रात मोहम्मद साहब के इंतकाल से तीन वर्ष पहले ६२९ ईसवी में केरल के कोडुंगलूर में हुआ था. इस मस्जिद को चेरमन जुमा मस्जिद नाम दिया गया. इस मस्जिद का नाम राजा चेरामन पेरूमल के नाम पर है. यह मस्जिद अपनी धर्मनिरपेक्ष विचारधारा के लिए पूरे भारतवर्ष में प्रसिद्ध है.

राष्ट्रीय धरोहर का प्रतीक है ये मस्जिद

मस्जिद प्रबंधन समिति के अध्यक्ष डॉक्टर मोहम्मद सईद के अनुसार मस्जिद की मौजूदा ईमारत के अन्दर का हिस्सा पंद्रहवी सदी का है. सईद के अनुसार, मस्जिद उनकी राष्ट्रीय धरोहर है जिसे सहेज के रखना चाहिए. यह मस्जिद वैसे तो कई बार निर्माण की प्रक्रिया से गुज़र चुकी है लेकिन अब उसका नवीनीकरण हो चुका है.

और भी है मस्जिदें

केरल के इस क्षेत्र में और भी प्राचीन मस्जिदें हैं, जो स्थानीय वास्तुकला की विशिष्ट इस इलाक़े में और भी कई प्राचीन मस्जिदें हैं,जिसमे न तो गुम्बद है न मीनारें. यह मस्जिदें स्थानीय वास्तुकला की विशिष्ट शैली को दर्शाती हैं.

यहाँ हम आपको बताते चलें कि केरल के मालाबार इलाक़े से अरब देशों का कारोबारी संबंध पैग़म्बर-ए-इस्लाम से भी पूर्व का है.

About the author

mm

Shweta Singh

Leave a Comment