अब होटल में इंसान नहीं रोबोट करेंगे आपका स्वागत

किसी होटल में बन्दर वेटर के रूप में काम करता दिखता है तो कहीं आई पैड पर आपके लिए खाना परोसा जाता है…दुनिया के ऐसे अजब गजब होटल्स के बारे में तो हम आपको बता ही चुके हैं तो चलिए आपको एक और ऐसे होटल  की ओर लिए चलते हैं जहाँ आपके स्वागत के लिए कोई इंसान नहीं रोबोट खड़ा होगा.क्या हुआ चौंक गए ना!!! चौंकिए मत  यह सच है.

 जापान में है यह होटल

जी हां जापान के टोक्यो में एक ऐसा होटल है जहां आप के स्वागत के लिए कोई इंसान नहीं बल्कि रोबोट होता है, यह रोबोट ना सिर्फ आपके हाल-चाल पूछेगा बल्कि आपको रास्ता भी दिखाएगा. रिसेप्शन से लेकर रूम सर्विस तक यह रोबोट आपकी सेवा में तत्पर रहेंगे. इतना ही नहीं रूम के नादर आपकी छोटी से छोटी ज़रुरत भी वह पूरी करेंगे.

क्या है इस होटल का नाम

जापान के टोक्यो के माहिमा में स्थित होटल हेन्न-न दुनिया का पहला ऐसा होटल है जहाँ रोबोटिक मानव हमेशा लोगों की सेवा में हाज़िर रहते है. रिसेप्शन पर एक डायनासोर आपको स्वागत करता नज़र आएगा. इस होटल में रोबोट गेस्ट्स के सामान कमरे तक ले जाने जैसे सभी काम बढ़िया तरीके से कर लिया करते हैं.

होटल की अन्य खासियतें

.

इस होटल की कई खासियतें हैं. कुछ खासियत इस प्रकार हैं-

  • इस होटल में ठहरने का शुल्क मात्र ७२ डॉलर है.
  • यहां कार्य करने वाले यह रोबोट जापानी, अंग्रेजी और चीनी भाषा में बोलने में भी माहिर हैं.
  • इन रोबोट पर टच स्क्रीन और फेशियल रिकॉगनीशन सिस्टम लगाया गया है.
  • होटल में चेक-इन करने के लिए मेहमान को इन रोबोट के टच पैनल स्क्रीन पर अपनी जानकारी भरनी होती है.
  • हालांकि ऐसा नहीं है कि इस होटल में सारा काम रोबोट ही करते हैं बल्कि यहाँ की सुरक्षा की जिम्मेदारी अभी भी इंसानों की ही जिम्मे है.

होटल के मालिक के अनुसार यह रोबोट सिर्फ वहां आने वाले गेस्ट का ध्यान खींचने के लिए नहीं है बल्कि इन रोबोट के जरिए टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल कर एक नई दिशा में बढ़ना है. यहां सुरक्षा की दृष्टि से हर तरफ कैमरे भी लगाए गए हैं क्योंकि गेस्ट की सुरक्षा को लेकर कोई समझौता नहीं किया जा सकता.

1 thought on “अब होटल में इंसान नहीं रोबोट करेंगे आपका स्वागत”

  1. Greetings! Very helpful advice in this particular post!
    It’s the little changes which will make the most significant changes.
    Many thanks for sharing!

Leave a Reply