People

इनके नख से शिख तक पर है राम का नाम

mm
Written by Shweta Singh

आजकल राम का नाम ज़ोरों पर चल रहा है. उत्तरप्रदेश में ही नहीं पूरे भारत वर्ष में राम नाम का बोलबाला है. भारत के छत्तीसगढ़ की रामनामी समाज में एक ऐसी परंपरा का पालन होता आ रहा है ​जिसे सुनकर आज भी हैरानी होती है.

रामनाम का टैटू

छत्तीसगढ़ में रामनामी समाज के लोग अपने पूरे शरीर में रामनाम का टैटू बनवाते हैं जिस आम भाषा में गोदना कहा जाता है. इस समाज में ये परंपरा लगभग सौ सालों से भी ज्यादा लंबे वक्त से चली आ रही है.

बगावत की निशानी है टैटू
लेकिन यह टैटू इश्वर के प्रति उनकी श्रद्धा का प्रतीक नहीं है. इस समाज के लोग न मंदिर जाते हैं और न ही मूर्ति पूजा करते हैं. आप कह सकते हैं कि इसे भगवान की भक्ति के साथ ही सामाजिक बगावत के तौर पर भी देखा जाता है.

क्या है बगावत के पीछे का सच
समाज के लोगों का कहना है कि सौ  साल पहले गांव में हिन्दुओं के ऊंची जाति के लोगों ने इस समाज को मंदिर में घुसने से मना कर दिया था. इसके बाद से ही इन्होंने विरोध करने के लिए चेहरे सहित पूरे शरीर में राम नाम का टैटू बनवाना शुरू कर दिया.

 

नयी पीढ़ी इस परंपरा से दूर हैं

छत्तीसगढ़ में रामनामी जाति के लोगों की जनसंख्या तकरीबन एक लाख है और छत्तीसगढ़ के चार जिलों में इनकी संख्या ज्यादा है. पूरे शरीर में टैटू बनवाना एक आम बात है. समय के साथ टैटू को बनवाने का चलन कुछ कम हुआ है. रामनामी जाति की नई पीढ़ी के लोगों को पढ़ाई और काम के सिलसिले में दूसरे शहरों में जाना पड़ता है. इसलिए वह पूरे शरीर पर नहीं बल्कि किसी एक हिस्से में राम नाम लिखवाकर अपनी संस्कृति को आगे बढ़ा रहे हैं.

टैटू बनवाना ज़रूरी

रामनामी समाज में पैदा हुए लोगों को शरीर के कुछ हिस्सों में टैटू बनवाना जरूरी है. खासतौर पर छाती पर और दो साल का होने से पहले. टैटू बनवाने वाले लोगों को शराब पीने की मनाही के साथ ही रोजाना राम नाम बोलना भी जरूरी है. ज्यादातर रामनामी लोगों के घरों की दीवारों पर राम-राम लिखा होता है. इस समाज के लोगों में राम-राम लिखे कपड़े पहनने का भी चलन है.

कुछ अन्य ख़ास बातें

सारसकेला के ७० वर्षीय रामभगत ने बताया की राम नामियों कि पहचान राम-राम का टैटू बनवाने के तरीके से होती है.

  • शरीर के किसी भी हिस्से में राम-राम लिखवाने वाले रामनामी.
  • माथे पर राम नाम लिखवाने वाले को शिरोमणि.
  • पूरे माथे पर राम नाम लिखवाने वाले को सर्वांग रामनामी
  • पूरे शरीर पर राम नाम लिखवाने वाले को नखशिख रामनामी कहा जाता है.

 

About the author

mm

Shweta Singh

Leave a Comment