अब गायों के लिए भी बनेगा हाईटेक मसाज पार्लर 

अपनी थकान मिटाने के लिए आप अकसर मसाज पार्लर जाते होंगे. लेकिन आज हम आपको एक ऐसे मसाज पार्लर के बारे में बताने जा रहे हैं जहाँ पर गायों की थकान मिटाई जाती है. यह आपको भले ही अटपटा लगे लेकिन हरियाणा में गायों के लिए यह मसाज पार्लर बनाया जा रहा है.

देसी गायों की नस्ल सुधार के लिए किया उठाया गया है यह कदम

देसी गायों की नस्ल सुधार व दूध उत्पादन बढाने के लिए लैब रिसर्च तेज कर दिया गया है. इसके लिए लाला लाजपतराय पशु चिकित्सा एवं पशु विज्ञान विश्वविद्यालय (लुवास) गायों पर रीसर्च तेज कर दिया है.

 

गायों की होगी पूरी ग्रूमिंग
यहां गायों को फव्वारों से नहलाने और मसाज से लेकर उनकी पूरी सफाई और ग्रूमिंग का काम मशीनों से होगा. कुल मिलाकर एक तरह से यह गायों का हाइटेक मसाज पार्लर होगा. बताया जा रहा है कि इस पूरे सिस्टम को ऑटोमैटिक पार्लर नाम दिया जाएगा. मशीनों द्वारा ही इन पशुओं का दूध निकालेंगी और उनकी जरूरत के हिसाब से चारा डाल देंगी. यह सब कंप्यूटराइज्ड होगा.

 

तीन करोड़ का बजट हुआ है पास

लाला लाजपतराय पशु चिकित्सा एवं पशु विज्ञान विश्वविद्यालय के ऐनिमल जेनेटिक्स ऐंड ब्रीडिंग डिपार्टमेंट के विभागाध्यक्ष डॉ ए.एस यादव के मुताबिक इस हाइटेक गाय फार्म के लिए लुवास को राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के तहत तीन करोड़ रुपये का बजट मिला है. यह गाय फार्म दो एकड़ क्षेत्र में स्थापित किया जाएगा. इसके लिए टेंडर भी जारी कर दिए गए हैं और अब तक तीन विदेशी कंपनियों ने आवेदन भी कर दिया है. गायों का यह हाईटेक मसाज पार्लर अभी यूनिवर्सिटी के पुराने कैंपस में ही स्थापित किया जाएगा.

 

Leave a Reply