Nature

ऐसा ग्रह जहां उगते हैं एकसाथ तीन सूर्य 

mm
Written by Shweta Singh

ज़रा सोचिये अगर हमारी पृथ्वी पर एकसाथ ३ सूर्य उगते तो कैसा होता. सोच कर ही डर लगने लगता है. लेकिन खगोलशास्त्रीयों ने एक ऐसा ग्रह खोज निकाला है जहां एकसाथ तीन सूर्य उगते हैं और डूबते हैं. साथ ही यहां का एक हज़ार साल पृथ्वी के एक साल के बराबर होता है. इस ग्रह के कुछ हिस्सो में सालभर लगातार दिन ही रहता है और शेष हिस्सों में एकसाथ तीन सूर्य उगते हैं. विशेषज्ञों का कहना है कि एक ही ग्रह के पास तीन या इससे ज्यादा सूर्य होना बहुत दुर्लभ है.

काफी युवा है यह गृह

विशेषज्ञों का मानना है कि यह ग्रह काफी युवा है. यह ग्रह करीब एक करोड़ साठ लाख साल पहले अस्तित्व में आया. माना जाता है कि तीन सूर्यों वाला यह पांचवा ऐसा ग्रह है जिसे इंसानों ने खोजा है.

वैज्ञानिकों ने दिया यह नाम

वैज्ञानिकों ने इस ग्रह को एचडी131399 एबी नाम दिया है. साथ ही वैज्ञानिकों का यह भी कहना है कि कई तारों के सामूहिक सिस्टम में इसकी कक्षा सबसे बड़ी है. इस ग्रह को एक बार अपनी कक्षा का चक्कर लगाने में इसे धरती के मुताबिक पांच सौ पचास साल लगते हैं.

तीनों सूर्य के बीच की दूरी हर दिन बढती है

यह ग्रह जिस सौर मंडल का हिस्सा है, उसके सबसे चमकीले सूर्य के आसपास यह चक्कर लगाता है. उससे छोटे दोनों सूर्य एक-दूसरे का चक्कर लगाते हैं. तीनों सूर्यों के बीच की दूरी हर दिन बढती जाती है. एक ऐसा समय आता है, जब एक सूर्य डूबता है और दूसरा उगता है.

पृथ्वी से तीन सौ बीस प्रकाश वर्ष की दूरी पर है यह ग्रह
इस ग्रह पर एक ही दिन और एक ही समय में तीनों सूर्य दिखाई देता हैं. इसके कारण ही यहां तीन सूर्योदय और तीन सूर्यास्त होते हैं.  यहां साल के एक चौथाई , यानी धरती के मुताबिक सौ से एक सौ चालीस साल तक, लगातार दिन रहता है. यह सायंस पत्रिका में छपी जानकारी के आधार पर है. यह ग्रह हमारी धरती से तीन सौ बीस प्रकाश वर्ष की दूरी पर है. इस ग्रह को देखने के लिए खगोलशास्त्रियों ने चिली स्थित वेधशाला के बहुत बडे दूरबीन का इस्तेमाल किया.

About the author

mm

Shweta Singh

Leave a Comment