यहां शिव के रोम रोम में है तुलसी का वास

 

इस संसार में न जाने कितनी ऐसी अध्यात्मिक, धार्मिक और ऐतिहासिक किवदंतियां है जिसे सुनकर पढ़कर हम और आप बड़े हुए हैं और जाने कितने ऐसे रहस्य हैं जिनके बारे हमने शायद सुना ही नहीं है. ऐसे ही एक रहस्य की आज हम परत खोलने का प्रयास कर रहे हैं.

मामला है छत्तीसगढ़ का

छत्तीसगढ़ के सिरपुर में खुदाई से पुरातत्व विशेषज्ञों को एक शिवलिंग प्राप्त हुआ है. इस शिवलिंग के बारे में कहा जाता है कि ये करीब दो हज़ार साल पुराना है, जो कि खास पत्थरों से बना हुआ है. और एक सच जिसे जानकर आप यकीन ना करें इस शिवलिंग की सबसे बड़ी खासियत यह है कि इसमें तुलसी के पत्तों की खुशबू आती है. इसके अलावा इस शिवलिंग की जनेऊ और शिव-धारियां पहले से ही मौजूद है.

पहली शताब्दी का मंदिर
मीडिया रिपोर्ट की मानें तो कई हजार साल पहले यहां एक विशाल मंदिर हुआ करता था. जिसका निर्माण पहली शताब्दी में किया गया था. लेकिन बाढ़ आने के कारण यह विशाल मंदिर पूरी तरह से धरती में समा गया. पिछले कई सालों से यहां खुदाई हो रही थी.

और भी कई रहस्य हैं यहां

सिर्फ दो हज़ार साल पुराना शिवलिंग ही नहीं और भी रहस्य छिपे हैं इस धरती के गर्भ में. यहाँ आज भी कई ऐतिहासिक चीजें मौजूद हैं जिनके बारे में हमने शायद सुना ही नहीं है. इनके बारे में फिलहाल जानकारियां जुटायी जा रही हैं.

हम कह सकते हैं यह संसार कितना रहस्यमयी है और धरती के गर्भ से बहार निकलते ही यह हमें हमारी भूली बिसरी सभ्यताओं से पुनः जोड़ने का प्रयास करता है.

Leave a Reply