यह गांव है कौमी एकता की मिसाल

रमज़ान की शुरुआत हो चुकी है. और इस पवित्र महीनें में पंजाब के इस गांव में हिन्दू-सिख भाइयों ने कौमी एकता की मिसाल पेश की है.

कहां का है मामला

पंजाब के गांव गालिब रण सिंह वाला में गांव के करीब एक दर्जन मुस्लिम परिवार रहते हैं. गांव के हिन्दू सिख परिवारों ने इस मुस्लिम परिवारों को रमज़ान से पहले उपहार स्वरुप मस्जिद बनाकर दी है. रमज़ान के पवित्र महीने से पहले पंजाब के शाही इमाम मौलाना हबीब उर रहमान सानी लुधियानवी ने मजलिस अहरार इस्लाम हिन्द की ओर से बनाई गई इस मस्जिद का उद्घाटन किया. गांव गालिब रण सिंह वाला में एक दर्जन से अधिक मुस्लिम परिवार हैं, जो लंबे समय से गांव में मस्जिद बनाने की कोशिश कर रहे थे.

गांव वालों ने की मदद 

इन परिवारों की जरूरत को देखते हुए गांव के सरपंच हरसिमरन सिंह बाली ने शाही इमाम पंजाब मौलाना हबीब उर रहमान सानी लुधियानवी से संपर्क कर गांव में एक भव्य मस्जिद का निर्माण कराया. इसके लिए गांववासियों ने जमीन और हर संभव सहयोग दिया.

क्या कहना है शाही इमाम

शाही इमाम ने कहा कि मस्जिद खुदा का घर है और इसके दरवाजे हर इंसान के लिए खुले हैं. गांव के हिन्दू-सिख भाइयों ने मस्जिद के निर्माण में योगदान देकर कौमी एकता को मजबूत किया है. शाही इमाम ने कहा कि इस्लाम अमन का मजहब है और समाज में बराबरी का संदेश देता है ताकि किसी के साथ भेदभाव न किया जाए. उस्मान रहमानी ने बताया कि मस्जिद के निर्माण के दौरान वह जब भी लुधियाना से गांव में आए तो उनका हिन्दू-सिख भाइयों की तरफ से गर्मजोशी के साथ स्वागत किया गया.

Leave a Reply