कभी देखा है मूविंग हाउस

कहते हैं हर व्यक्ति में कोई न कोई हुनर ज़रूर होता है बस ज़रूरत है उसके हुनर को पहचानने की और उसे एक मौका देने की. आज आपको एक ऐसे व्यक्ति के बारे में बताएंगे जो सिर्फ पांचवी तक पढ़ा है लेकिन अपने हुनर के दम पर उसने घूमने वाला घर बनाया है. उसके इस टेलेंट को देखकर कई पढ़े-लिखे लोग उससे कुछ सीखने के लिए उसके पास जाते है.

कौन है यह व्यक्ति

यह व्यक्ति है मोहम्मद सहुल हमीद जिसने सिर्फ पांचवी क्लास तक ही अपनी पढ़ाई की है. इनकी उम्र अभी पैंसठ वर्ष है और तमिलनाडु के मेलापुदुवक्कुदी गावं में रहते है. जब ये छोटे थे तब इनके घर के हालात ठीक नही थे. पैसो की तंगी के कारण ये पांचवी तक ही पढ़ पाए. और घर खर्च चलाने के लिए काम ढूंढने निकल पड़े. जब इनको कुछ काम नही मिला तो ये मजदूरी का काम करने लगे. मजदूरी करते करते मोहम्मद सहुल हमीद लोगो के घर बनाने में रूचि लेने लगे और मन लगाकर इस काम में जुट गए.

सीखा घर बनाने का काम

मोहम्मद सहुल हमीद अरब देश जाकर रहने लगे. और बीस साल वहां रहकर घर बनाने के काम को सीखा. और तो और वहा जाकर मकान बनाने की नई-नई टेक्नोलॉजी को देखकर उनसे एक नया अनुभव लिया. और फिर वापस से अपने ही देश आकर उन्होंने यह प्रण लिया की वो भी एक ऐसा घर बनाएंगे जिसे देखने के लिए दूर-दराज के लोग आएंगे.

बनाया मूविंग हाउस

अपनी मेहनत और लगन से मूविंग हाउस बना ही दिया. इस घर में ग्राउंड फ्लोर पर तीन तथा फर्स्ट फ्लोर पर दो बेडरूम बनाए गए है. फर्स्ट फ्लोर में आयरन रोलर लगाया गया है जिसकी सहायता से इस मकान को किसी भी ओऱ घुमाया जा सकता है. और अपने इस घूमने वाले घर को उन्होंने नाम दिया मूविंग हाउस. उनके इस मूविंग हाउस को देखने के लिए दूर- दूर से इंजीनियर आने लगे है.

Leave a Reply